Horror Story 2021 Hindi: भुतहा ट्रेन | असली हॉरर स्टोरी 2021 हिंदी

Horror-Story-2021-Hindi-Bhutaha-Train-Kahani-In-real
Bhutaha Train Hindi Horror Real Kahani 2021


Horror Story 2021 Hindi: Bhutaha Train
हॉरर स्टोरी 2021 हिंदी: भुतहा ट्रेन

हुत खूबसूरत पत्नी थी डेनियल की। गांव भर में उसके चर्चे शुरू हो गये थे।


ड्यूटी पर भी उसका मन नहीं लगता था कि कहीं उसके पीछे कोई उसकी पत्नी रूज से प्रेम संबंध न बढ़ाने की कोशिश कर रहा हो।


रूज वैसे भी बड़ी चंचल स्वभाव की थी।


डेनियल को सबसे ज्यादा खतरा अपने दोस्त मार्टियस से था। क्योंकि वह एक रंगीनमिजाज युवक था। डेनियल उसकी नस-नस को पहचानता था।


दोनों एक ही गांव में पले-बढ़े थे। बचपन में साथ रहे और अब जवानी में भी दोनों की दोस्ती बनी हुई थी। मित्रता के संबंधों के कारण ही उनका एक-दूसरे के घरों पर निर्बाध आना-जाना था।


उम्र में डेनियल मार्टियस से बड़ा था। उसकी शादी भी पहले हुई थी। अपनी पत्नी को पाकर वह निहाल हो उठा था। क्योंकि वह थी ही ऐसी खूबसूरत कि आस-पास उसकी जैसी कोई भी युवती न थी।


डेनियल रेल ड्राइवर था। उसकी ड्यूटी का कोई निश्चित समय नहीं था। उसे किसी भी समय जाना पड़ जाता था।पत्नी की चंचलता और दोस्त की रंगीनमिजाजी के कारण उसे तरह-तरह का वहम होता रहता था। ऐसे में उसे पता चला कि उसके ड्यूटी पर जाते ही मार्टियस रात को उसकी पत्नी का हाल-चाल पूछने के बहाने आता है।


इतना ही उसके लिए काफी था। बस, उसने बचपन की यारी को ताक पर रखते हुए साफ बोल दिया "मार्टियस! तुम मेरे बाद मेरे घर पर आते हो, यह अच्छी बात नहीं है। अब से इधर मत आना।"


उसके इस फैसले पर मार्टियस बेचैन हो उठा।


असल में डेनियल का शक ऐसे ही नहीं था। उसके शक के पीछे कुछ सच्चाई भी छिपी थी। रूज भी मार्टियस की तरफ आकृष्ट हो गया थी। यह कहना ज्यादा उपयुक्त होगा कि वह उसके साथ चक्कर चला बैठी थी।


डेनियल द्वारा मार्टियस को अपने घर आने से रोकने पर उन दोनों ने छिपकर मिलना शुरू कर दिया। लेकिन इश्क छिपाये नहीं छिपते हैं। रूज और मार्टियस का भी वही हाल हुआ। दोनों का पाप डेनियल से छिप न सका।


लेकिन सच्चाई सामने आते-आते समय काफी हो गया। रूज इस दौरान दो बच्चों की मां बन गयी थी। पत्नी की बेवफाई वह झेल नहीं पाया। एक दिन उसने पत्नी और बच्चों को मार डाला तथा आत्महत्या कर ली।


इस हत्याकांड से मार्टियस को बड़ा आघात लगा। वह बेचैन मन में प्रायश्चित के भाव महसूस कर रहा था। काफी दिन परेशान फिरने के बाद उसे जाने क्या सूझी कि उसने रेलवे में आवेदन कर दिया।


उसका भाग्य ही अच्छा था कि तुरन्त उसका चयन ट्रेन ड्राइवर के लिए हो गया। उसे इंजन भी वही मिला, जिसे डेनियल चलाता था। ड्यूटी वाले दिन वह बड़ा खुश था। इंजन के डिब्बे में घुसा कि “ठक्!" इस आवाज के साथ इंजन के डिब्बे का द्वार अपने आप बंद हो गया तथा रेल से इंजन के जुड़ने के समय बजने वाली घंटी बज उठी।


रात बहुत हो गयी थी। इंजन के पास वाले डिब्बे में कोई यात्री दिखाई नहीं पड़ रहा था। वह घबरा गया। उसी समयखड़-बड़-खड़-बड़ की आवाजों के साथ इंजन स्वयं ही स्टार्ट हो उठा। उसके सभी कलपुर्जे अपने आप ही काम करने लगे। जबकि मार्टियस ने किसी यंत्र को अभी हाथ तक नहीं लगाया था।


उसका जैसे खून सूख गया था। अपने आप स्टार्ट होते इंजन को खौफ भरी निगाहों के साथ मार्टियस देखे जा रहा था। इंजन अपने आप चला और ट्रेन से जुड़ गया। इसके बाद ट्रेन चलने लगी। डर के मारे मार्टियस का शरीर पसीने-पसीने हो गया था। उसकी टांगें रह-रहकर कांप रही थीं।


यह सब कैसे हो रहा था? वह समझ नहीं पा रहा था। ट्रेन अब स्पीड पकड़ रही थी। डर से मार्टियस जड़वत हो रहा था। 'ट्रेन रोकनी होगी...अन्यथा उसे बेमौत ही मरना होगा...।' मार्टियस के कांपते मन से आवाज उठी। मन के डर से घबराकर उसने ट्रेन की स्पीड घटाने का प्रयास किया, वह उसके ब्रेक से खेलने लगा।


लेकिन जितना वह स्पीड घटाने का यत्न करता, ट्रेन तेज होती चली जा रही थी। फिर वह एक जगह पर जाकर रुक गयी। दूसरे दिन भी ऐसा ही हुआ। लेकिन उस दिन एक सहकर्मी भी उसके साथ में चल रहा था।


ट्रेन जब स्वयमेव चलने लगी तो उसके सहकर्मी बेहोश हो गया। होश में आया तो वह नौकरी छोड़कर चला गया।इसके बाद भी ट्रेन ऐसे ही चलती रही।


मार्टियस जब एक दिन ड्यूटी पर आ चुका था तो जाने उसके बीवी-बच्चों को क्या सूझी कि वह भी ट्रेन के सफर का आनन्द लेने आ पहुंचे। पहले तो उसने नाराज होकर उन्हें वापस जाने के लिए कहा, किन्तु वह जिद पर आ गये।


तब न चाहते हुए भी उसने उन्हें साथ ले लिया। इंजन में प्रविष्ट होते ही दरवाजा स्वयं बंद हो गया और इंजन स्टार्ट हो गया। यह देख उसके बीवी-बच्चे होश गंवा बैठे। उसने इस बारे में उन्हें आज तक नहीं बताया था। अचानक मार्टियस की भी हवा टाइट हो गयी। क्योंकि डेनियल वहां बैठा हुआ था।


जहरीली मुसकान के साथ डेनियल वहां से उठा और आगे बढ़ कर वह ट्रेन का भाप का ढक्कन खोलने लगा मार्टियस घबरा गया। वह जानता था कि भाप का ढक्कन खुल गया तो ट्रेन को कोई नहीं बचा सकता था।


उसने डेनियल को रोकने का यत्न किया। जबकि प्रेत की ताकत के आगे वह कमजोर पड़ गया था। फिर भी दुर्घटना टल गयी।


मार्टियस ने कहकर इंजन बदलवा लिया। नये इंजन में उसे प्रेत-बाधा का सामना नहीं करना पड़ा था। जब उसे इसका यकीन हो गया कि अब डेनियल उसे कुछ नहीं करेगा तो वह एक दिन बीवी-बच्चों को घुमाने ले गया।


ट्रेन दौड़ रही थी। दौड़ती ही जा रही थी। उसकी खुद बढ़ती स्पीड से मार्टियस घबरा गया। तभी इंजन की भाप वाला ढक्कन अपने आप ही खुल गया और ट्रेन पटरी छोड़ एक खाई में उतरती चली गयी।


लेकिन आश्चर्य! मार्टियस और उसके बीवी-बच्चे तो मर गये, किन्तु बाकी सभी यात्री सकुशल रहे। किसी को खरोंच भी नहीं आयी थी। डेनियल ने अपना बदला ले लिया था।


🕀🕀🕀🕀🕀

👻💀🕱💀☠

.....

..... Horror Story 2021 Hindi: Bhutaha Train .....

Team Hindi Horror Stories

No comments:

Powered by Blogger.