Real Horror Stories India: The Apartment - Hindi Horror Stories - सच्ची घटना पर आधारित सबसे डरावनी कहानियाँ

Recent Posts

Tuesday, 1 October 2019

Real Horror Stories India: The Apartment

अंश: यह लगभग मई -जून की बात होगी, इस समय गर्मियां बहुत होती है। उस समय इलेक्ट्रिसिटी शट-डाउन बहुत होते थे। लाइन कट होने के समय, हम या तो ठंडी हवा के लिए पीछे बालकनी में बैठते थे या गलियारे में सामने के दरवाजे के बाहर बैठते थे। अचानक, हमने ग्राउंड फ्लोर से, किसी की जोर जोर से चीखने की आवाज सुनी।

....दोस्तों इस Real Horror Stories India को लास्ट तक जरुर पढ़ें क्यूंकि यह एक बहुत इंट्रेस्टिंग और सच्ची डरावनी कहानी है | अइ होप की आपको यह Real ghost story in Hindi जुरूर पसंद आएगा |

Real Horror Stories India: The Apartment

Real Horror Stories India in Hindi: The Apartment
Hindi Horror Stories


यह संभवतः वर्ष 1994-95 में हुआ था।

उस समय मैं चेन्नई के अवदी, (तब मद्रास), भारत के प्रतिष्ठित आर एंड डी केंद्रों में से एक में एक अनुसंधान अधिकारी के रूप में काम कर रहा था।

हमें कुछ साल पहले ही बनी एक नयी बिल्डिंग में रहने के लिए रूम मिला, यहाँ हमारे ऑफिस के बहुत से लोगों का अपार्टमेंट था। इस बिल्डिंग में तीन फ्लोर थीं, प्रत्येक फ्लोर में 8 अपार्टमेंट थे। प्रत्येक मंजिल पर, 4 अपार्टमेंट दाईं ओर, और बाकि के चार बाईं तरफ, और बिल्डिंग के मध्य में सीढियाँ थी।

सारे अपार्टमेंट पूरी तरह से रेडी थे, और बैचलर्स के लिए स्वर्ग जैसा था, क्योंकि किसी भी तरह का फर्नीचर खरीदने की कोई आवश्यकता नहीं थी।

Horror Story In Hindi: The Haunted Dream को पढ़ने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें


मुझे थर्ड फ्लोर पर लास्ट अपार्टमेंट मिला था, जिसमें रहना बहुत आरामदायक था लेकिन गर्मियों के दौरान थोड़ा परेशानी होती थी, क्योंकि सभी लकड़ी के फर्नीचर और बिस्तर काफी गर्म हो जाया करते थे।

अपार्टमेंट का डिजाईन कुछ इस प्रकार था: मेन डोर से इंटर करने पर, दाईं ओर एक बड़ा और लंबा लिविंग रूम था, और अपार्टमेंट के अंत में एक बालकनी थी।

बाईं ओर एक रसोईघर था, और उसके दिवार के साथ लगा एक बाथरूम, एक छोटा लेकिन अलग टॉयलेट और अंत में एक बड़ा सिंगल बेड रूम था।

जैसे ही आप बेडरूम के दरवाजे से रूम में इंटर करेंगे, उसके ठीक सामने वाली दीवार पर एक बड़ा सा क्लोसेट देख सकते थे, जिसकी लकड़ी के दरवाजे लगभग सात फीट लम्बे थे और दीवार के बाकी हिस्सों में एक विशाल खिड़की थी, जो बेडरूम में हवा और रोशनी के लिए पर्याप्त थी।

Real Horror Stories India in Hindi - Cabin In The Woods को पढ़ने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

वहां के सारे अपार्टमेंट ठीक इसी डिजाईन से बनायीं गयी थी।

तीसरी मंजिल पर उस आखिरी अपार्टमेंट में, मैं लगभग 2 साल तक अकेले रहा।

शादी के बाद भी मैं वहां रहना जारी रखा क्योंकि यह पहले से ही सुसज्जित था और मेरी पत्नी को भी लगा कि यह अपार्टमेंट छोटे परिवार के लिए काफी अच्छा था।

शादी के कुछ महीने बाद की बात है, मेरी सास कुछ दिनों के लिए हमारे साथ रहने के लिए आई थी।

 यह लगभग मई -जून की बात होगी, इस समय गर्मियां बहुत होती है। उस समय इलेक्ट्रिसिटी शट-डाउन बहुत होते थे। लाइन कट होने के समय, हम या तो ठंडी हवा के लिए पीछे बालकनी में बैठते थे या गलियारे में सामने के दरवाजे के बाहर बैठते थे।

अपार्टमेंट का डिजाइन ऐसा था कि कोई केवल सिर्फ सामने के दरवाजे से प्रवेश कर सकता था और अगर बालकनी का दरवाजा बंद हो जाये, तो सामने के दरवाजे को छोड़कर कोई भी निकास नहीं था।

True Real Horror Stories India in Hindi- Old Creepy lady को पढ़ने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

हमारे नीचे सीधे ग्राउंड फ्लोर के अपार्टमेंट में एक आर्मी ऑफिसर, उसकी पत्नी और उनकी 14-15 साल की बेटी रहती थी। उस दौरान परिवार में उनके साथ 2-3 रिश्तेदार भी थे, जो नार्थ स्टेट से आए थे।

एक बार उन्हें (आर्मी ऑफिसर को) आधिकारिक काम से कुछ दिनों के लिए शहर से बाहर जाना पड़ा। इसलिए, उनके घर में, उनकी पत्नी, बेटी और उनके रिश्तेदार थे।

एक शाम, मैं, मेरी पत्नी और मेरी सासु माँ  मुख्य दरवाजे के सामने गलियारे में कुर्सियों पर बैठे थे। हमने बालकनी का दरवाजा भी खुला रखा था, ताकि ठंडी हवा अपार्टमेंट को कुछ ठंडा कर सके, उस दिन इलेक्ट्रिसिटी शूट डाउन था।

अचानक, हमने ग्राउंड फ्लोर से, किसी की जोर जोर से चीखने की आवाज सुनी।

मैं तुरंत खड़ा हुआ और देखने के लिए नीचे झुका, मैंने देखा की आर्मी ऑफिसर की वाइफ चिल्ला रही थी, उनके घर में एक चोर घुस गया था और उन्हें तुरंत मदद की जरूरत थी।

सेना के अधिकारी का पूरा परिवार अब मुख्य दरवाजे के बाहर था।

Bhoot ki Kahani in Hindi-  Please Open The Door को पढ़ने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

उनकी चीख-पुकार सुनकर, मैं जल्दी से नीचे की ओर भागने लगा और दूसरे अपार्टमेंट से अपने दोस्तों को बुलाया और हम कुछ ही मिनटों में आर्मी ऑफिसर्स के अपार्टमेंट के बाहर पहुंच गए।

आर्मी ऑफिसर की पत्नी ने हमें बताया कि वे सभी शाम से बिजली बंद होने के कारण घर के बाहर बैठे थे और वह अपने रिश्तेदारों के लिए पानी लाने के लिए घर के अंदर गई ही थी, की उन्हें अपने बेडरूम के दरवाजे के पास सफेद शर्ट और सफेद पैन्ट में एक आदमी को देखा।

इस से वह बहुत डर गयी थी और वह डर के कारण एक शब्द भी अच्छे से बोलने में असमर्थ थी।

उन्होंने हमें बताया की वह आदमी उनको घूर कर देख रहा था। कुछ देर तक, उस व्यक्ति ने घृणा से भरी निगाहों से देखा और उनसे कुछ कहा, जिसे वह समझ नहीं पाई और अचानक पीछे मुड़कर बेडरूम में चला गया।

 बेडरूम में सीधे चलकर वह अलमारी में घुस गया। उन्हें नहीं पता था कि वह आदमी घर में कैसे घुस गया था, क्योंकि पूरा परिवार घर के सामने बैठा था और बालकनी का पिछला दरवाजा भी बंद था।

भय के साथ,उन्होंने तीखी चीख पुकार मचाई, और सामने के दरवाजे से बाहर निकल गई और सामने के दरवाजे को तुरंत बंद कर दिया, ताकि वह आदमी बच न सके। हम सब उन्हें भय से कांपते हुए साफ़ महसूस कर सकते थे।

Darawni Kahaniyan in Hindi- Ghost's Selfie को पढ़ने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें


हम सभी ने अपार्टमेंट में प्रवेश करने और उस चोर को पकड़ने का फैसला किया, क्योंकि उसके पास भागने का और कोई रास्ता नहीं था। हम सभी ने लाठी-डंडों से लैस होकर दरवाजा खोला और अंदर घुस गए। हमारे एक दोस्त के पास सर्च लाइट्स थी जिसे उसने अंधेरे घर में घुसते ही जला दिया।

अंदर जाते ही हमने देखा कि पीछे के दरवाजे के सामने रखा फ्रिज अभी भी वहीं था, इससे हम सब को यह यकीन हो गया था कि घुसपैठिया अभी भी अंदर है।

जैसा कि हमने लिविंग रूम, रसोई, बाथरूम और बाथरूम को देखा, पर हमने पाया कि वे सभी खाली थे। घर में एकमात्र  देखने के लिए बेडरूम बचा था। जैसे ही हम टॉर्च को बेडरूम में ले गए, हम देख सकते थे कि यह भी रूम खाली था। हम उस रूम में पलंग के नीचे, कुर्सी के पीछे और हर वह जगह जहाँ वह छुप सकता था, वहां हम यह सुनिश्चित करने के लिए खोजे की कोई है तो नहीं।


पर उस घर में कोई नहीं था, या तो वह एक भ्रम था या एक भुत।

यही कारण है कि यह बात हम पर हावी हो गया कि घुसपैठिया एक भूत हो सकता है!

आर्मी ऑफिसर की पत्नी को यकीन नहीं था कि उनके घर के अंदर कोई नहीं था, इसलिए हम उन्हें भी अपने साथ ले गए और उन्हें समझाने के लिए छिपने की हर जगह की जाँच की।


हमने खुद को आश्वस्त किया कि अंधेरे घर में, आर्मी ऑफिसर की पत्नी की आँखें धोखा खा गयी होंगी और वह  खुद की साया को देख कर किसी की कल्पना कर ली होगी, जहाँ कोई नहीं था।

An Indian Ghost Story in HindiGhost's Bathroom को पढ़ने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें


उसी अपार्टमेंट के तिरछे वाले क्वार्टर में हमारा एक और अच्छा दोस्त रहता था। हम उसे सिकी कह कर पुकारते थे। वह काफी हेल्थी  था और काफी जिम करता था। स्पष्ट रूप से वह एक ऐसा आदमी था जो डर नहीं सकता था! वह उस अपार्टमेंट में लगभग एक साल से अकेले रहा था।

उपरोक्त घटना के कुछ महीने बाद, लगभग रात के 2 बजे, सिकी अपने घर से दौड़ता हुआ बाहर निकला और बगल के अपार्टमेंट के दरवाजे पर जोर-जोर से खटखटाने लगा।

इस अपार्टमेंट मैं भी हमारा दोस्त रहता था। उसने हमें फ़ोन करके बताया की सिकी बहुत डरा हुआ है और जोर जोर से रो रहा है।

जब हम उसे देखने गए तो देखा की  देखा कि सिकी डर से कांप रहा था और उसका पूरा शरीर पसीने से तर था। सिकी एक शब्द भी नहीं बोल सकता था और ऐसा लग रहा था कि उसे कार्डियक अरेस्ट हुआ है।

हम उसे तुरंत हॉस्पिटल लेकर गए, हॉस्पिटल लेकर जाने के क्रम में सिकी बेहोश हो गया था। उसे अगली सुबह होश आया, तब सिकी ने हमें रात का घटना दोहराते हुए फिर से रोने लगा।

Real Horror Stories India

उसने हमें बताया की वह बड़े आराम से अपने बेड पर सो रहा था, तब उसे एक अजीब सी आवाज सुनाई दी। यह सोचकर कि यह उसका सपना है, वह नहीं उठा लेकिन फिर उसे आवाज सुनाई दी और उसने अपनी आँखें खोलीं और इधर-उधर देखा। तभी उसी नज़र उसके ठीक बगल में खड़े एक छाया पर पड़ी और वह उसे गौर से देखने लगा। इससे पहले कि वह उठ पाता, वह छाया उसके सीने पर बैठ गया और उसका गला दबाने लगा।

उसने सिकी को इतने जोर से पकड़ रखा था की सिकी कुछ नहीं कर पा रहा था, सिकी को यह विश्वास हो गया था की अब वह मरने वाला है। की तभी वह छाया सिकी को छोड़ कर कहीं गायब हो गया । जिस क्षण उसने उसको छोड़ा सिकी तुरंत बिस्तर से कूद कर दरवाजे से बाहर निकल गया और मदद के लिए बगल वाले दोस्त के दरवाजे तक पहुंचा।

सिकी इस घटना से इतना घबरा गया, कि उसने मद्रास से अपना ट्रान्सफर अपने गृह राज्य केरल के पास  दूसरे R & D केंद्र में करवा लिया।

हम यह सोचकर हैरान रह गए कि क्या महिला ने जो छाया देखी थी और सिकी ने जो अनुभव किया था, क्या वह एक ही था।

..... New True Real Horror Stories India in Hindi Ends Here .....


Team Hindi Horror Stories:

दोस्तों आपको ये New Real Horror Stories India In Hindi 2019: The Apartment कैसा लगा ये कमेंट में बताये | यदि आप इस तरह के Hindi Horror Kahaniya या Horror story in Hindi का animated विडियो देखना चाहते हैं, तो निचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें | यदि आप ऐसे ही और इंडियन घोस्ट स्टोरीज या story in Hindi horror देखना चाहते है तो -  Dating Ghosts (click here) youtube channel को subscribe कर लें ताकि मैं आपके लिए और भी ऐसे ही Scary Stories in Hindi लेकर आ सकूँ|

Dating Ghosts | Hindi Horror Stories | Horror Stories In Hindi



दोस्तों आपके पास भी कोई  Real Horror Stories India In Hindi, Horror Story Real In Hindi, Ghost Stories in Hindi, रियल घोस्ट स्टोरीज इन इंडिया इन हिंदी है तो हमारे साथ शेयर करें और ऐसे  ही रोचक,  Hindi Horror Stories पढ़ने के लिए सब्सक्राइब करें  हमारे  Newsletter section को , धन्यवाद् |

No comments:

Post a Comment