Horror Stories In Hindi : The Haunted Dream - Hindi Horror Stories - सच्ची घटना पर आधारित सबसे डरावनी कहानियाँ

Recent Posts

Tuesday, 29 May 2018

Horror Stories In Hindi : The Haunted Dream



Horror Stories In Hindi : The Haunted Dream

वैसे तो सपना हर किसी को आता है, लेकिन सपने सच नहीं होते | मगर कुछ लोग ऐसे भी है जिनके सपने कभी कभी सच हो जाते हैं | आज के कहानी में भी कुछ ऐसा ही होने वाला है | सीमा जो की बंगलोर की एक सॉफ्टवेर कंपनी में काम करती है, उस रात घर में बिलकुल अकेली थी, उसकी रूममेटस आज रात नहीं थी लेकिन यह सब उसके साथ पहली बार नहीं हो रहा था | इस Scary Horror Story को जरुर पढ़ें... 

Horror Stories In Hindi  The Haunted Dream
Hindi Horror stories - The Haunted Dream


 The Haunted Dream :


उस समय रात के 12:02 हो रहे थे | यह लगातार तीसरा दिन था जब मैं वही सपना,उसी समय पर देखि | एक झटके में ही मेरी  नींद खुल गयी | मेरे बाल पानी में पुरे भींग चुके थे और नाइट सूट पूरी तरह से गीली हो चुकी थी | क्योंकि मेरा  सपना ही कुछ ऐसा था | मुझे कुछ भी समझ नहीं आ रहा था की, मेरे साथ ये क्या हो रहा | मैं सपने में एक समुद्र में डूब रही थी, मेरा फेफड़ों में ठंडा, काला पानी भरा चूका था,और उसी समय मेरी अगली सांस पर,  मेरी आंखें खुल गयी और मेरी नज़र घडी पर गयी उस समय 12:02 हो रहे थे | मैंने रूम की सारी लाइट्स ऑन कर दी |


मैं उठी और बाथरूम में नहाने को चली गयी, और मैंने वहां गहरी सासें भरी । यहाँ अभी भी मैं अपने सपनों के बारे में सोच रही थी। मैंने अपना सिर झुका लिया और अपनी आंखें बंद कर दीं। अचानक मेरे पैरों के निचे से सारा पानी जोर से आवाज के साथ नाली में चला गया । उसी पल, मुझे लगा की किसी ने मेरे कंधे पर हाथ रखा | मैं जोर से चीखी और पलट  के पीछे देखने लगी , तभी शावर से बहुत गर्म पानी गिरने लगा । गर्म पानी ने मेरी गर्दन, कंधे और हाथ को जला दिया था ।


दर्द और डर से मैं तुरंत बाथरूम से बाहर आ गयी । रूम के सारे लाइट्स अभी भी जल रहे थे। मैंने खुद को सुखाने के लिए एक तौलिया उठाया। जब मैं तौलिया से अपने बॉडी को रब करने लगी, तब बुरी तरह से मेरे जले हुए कंधे और हाथ में बहुत तेज दर्द होने लगा और फिर मैं किसी तरह ड्रेस चेंज कर किचन में गई ।


मैं किचन में कॉटन और बर्निंग क्रीम खोज ही रही थी की तभी पीछे से एक बूढ़ी औरत बोली , "यह लो इसी को खोज रही थी न | यह सब मेरे कारण हुआ यह मेरी गलती थी – मुझे इसके लिए बहुत खेद है , लेकिन मैं क्या करती तुम्हारा ध्यान आकर्षित करना मेरे लिए बहुत मुश्किल हो रहा था | 
  

यह सब सुनकर मुझे ऐसा लगा की मेरे पैर के निचे से जमीन खिसक गयी हो । उस बूढ़ी औरत ने अपने एक हाथ में एक कप पकड़ रखा था, उसने बोला लो यह पी लो, कॉफ़ी,तुम को इसकी अभी ज़रूरत है | यह सब मेरे समझ से बिलकुल बाहर था, मैं उस समय बिलकुल पागल सी हो गयी थी | मुझे कुछ भी समझ नहीं आ रहा था की यह सच है या मैं कोई सपना देख रही |


तभी बूढ़ी औरत ने कहा, मैं यहाँ ज्यादा समय तक नहीं रुक सकती। एक सपने में दिखना आसान है, लेकिन रियलिटी में सामने दिखने में बहुत ही जायदा एनर्जी लगता है |

कंधे में बहुत ही तेज पेन और इस शॉक ने मुझे गुस्सा दिला दिया, मैंने टेंशन में कहा "ठीक है,आपको जो कुछ करना था वो कर चुकी हैं – अब आप क्या चाहती हैं?


तो बूढ़ी औरत ने कहा यह वह नहीं है जो मैं चाहती हूं, लेकिन तुम क्या चाहती हो वो तुम मुझे बताओ डिअर |

मैं गुस्से में उसे बोली, कि प्लीज तुम मुझे अकेला छोड़ दो और यहाँ से चली जाओ ।

तब बूढ़ी औरत ने कहा, यह एक अच्छा आप्शन है, पर मैं तुमको एक आप्शन देती हूँ, क्यूंकि तुम मरने वाली हो । 
यह सुनकर मेरे रोंगटे खड़े हो गए, मैं लड़खड़ाते हुए पूछी क्या..क्या आप्शन है ? उस समय मुझे ऐसा लगा की मेरी  आवाज बंद हो गयी हो |

तब बूढी औरत ने बोला – मेरे मरने का कारण तुम हो, क्या यह  बात तुम्हे पता है ?

यह सुनकर  मैं हैरान हो गयी, तब मैंने उस बूढी औरत से बोला की मैं तुमको तो जानती तक नहीं, ना ही मैंने तुम्हे मारा है | मैं तो तुमसे कभी मिली भी नहीं तो मैंने तुम्हे कब मारा |

तब उस बूढी औरत ने कहा – रिलैक्स, मुझे पता था की तुम यही बोलोगी क्यूंकि तुम्हे पता ही नहीं है की मैं तुम्हारे कारण मरी हूँ | तब मैंने बोला - यह क्या कह रही हैं आप, मैंने आपको कब मारा | यह सब झूठ है  | देखिये आप जो कोई भी हैं , प्लीज यहाँ से चली जाइये, प्लीज मुझे अकेला छोड़ दीजिये |

तभी उस बूढी औरत ने बोला क्या तुम्हे याद है, लास्ट न्यू इयर की रात तुम कहाँ थी ? मैं आंसर देती हुए बोली मैं तो एक शिप में थी अपने दोस्तों के साथ न्यू इयर सेलिब्रेट कर रही थी, क्यूँ क्या हुआ अपने यह क्यूँ पूछा ?

तो इस पर बूढी औरत ने बोला उस रात मैं भी उस ही शिप पर थी | मेरे बेटे ने भी मेरे न्यू इयर सेलिब्रेट करने के लिए उस शिप में बुकिंग करा दिया था, क्यूंकि इस बार वह घर नहीं आ पा रहा था | मैं जस्ट तुम लोगो के ही पीछे रेलिंग के पास खड़ी तुमलोगों की बदमाशी देख रही थी, मै उस फेरी में बिलकुल अकेली थी |


फिर जैसे ही 12 बजे तुमने ने एक पटाखा जलाया और वह पटाखा गलती से रॉंग डायरेक्शन में आ गया | वो पटाखा सीधे मेरे तरफ आ रहा था, मैं उस से बचने के  लिए पीछे हटी और मेरा पैर फिसल गया और मैं disbalance होकर शिप से निचे गिर गयी | गिरने के बाद मैंने पानी में से हेल्प के लिए बहुत आवाज लगायी पर इतने शोरगुल में किसी को पता नहीं चला, और धीरे धीरे वह पानी मेरे नाक और मुँह से होते हुए फेफड़े में चला गया और फिर डूबने से मेरी डेथ हो गयी |


Horror Stories In Hindi : The Haunted Dream
Hindi Horror stories - The Haunted Dream


आज भी मेरे बेटे को यह मालूम नहीं की उसकी माँ कहाँ है, वह मुझे खोज रहा है | यदि तुम चाहती हो की कल 12:02 बजे, मैं तुम्हे नहीं मारूं तो यह सारी बातें तुम मेरे बेटे को बता दो |

अब सब तुम्हारे हाथ में है डिअर ,और यह कह कर वो बूढी औरत मेरे आँखों के सामने से गायब हो गयी |

मैंने नेक्स्ट मोर्निंग सबसे पहले उसी शिप कंपनी में  फ़ोन कर के पूछा की क्या कोई ओल्ड लेडी लास्ट न्यू इयर से मिस्सिंग है क्या ? उधर से उनका रिप्लाई "yes" में आया | फिर मैंने उनका एड्रेस और उनके बेटे का नंबर ले लिया और उनके बेटे को ये सारी बातें डिटेल में  फ़ोन पर बता दी |

उस रात के बाद फिर मैंने उस लेडी को कभी नहीं देखा |

दोस्तों आपको ये Hindi Horror Story कैसा लगा ये कमेंट में बताये | यदि आप इस तरह के और  Horror story का animated version देखना चाहते है तो निचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें | यदि आप ऐसे ही और स्टोरीज देखना चाहते है तो -  Dating Ghosts (click here) youtube channel ko subscribe कर लें ताकि मैं आपके लिए और भी ऐसे ही Scary Stories लेकर आ सकूँ|


Horror Stories In Hindi
Please Subscribe Dating Ghost Channel Through This Link For More Scary & Horror Stories


 दोस्तों आपके पास भी कोई Scary Story, Horror Story, Ghost Story है तो हमारे साथ शेयर करें और ऐसे  ही रोचक,  Hindi Horror Stories पढ़ने के लिए सब्सक्राइब करें  हमारे  Newsletter section को , धन्यवाद् |

No comments:

Post a Comment